मुहावरे – Muhavare – Notes – 1

मुहावरे :

मुहावरे का अर्थ है – विशेष अर्थ को प्रकट करने वाले वाक्यांश।

अ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

अपने मुँह मियाँ मिट्ठू बनना – स्वयं अपनी प्रशंसा करना
अक्ल का चरने जाना – समझ का अभाव होना
अपने पैरों पर खड़ा होना – स्वालंबी होना
अक्ल का दुश्मन – मूर्ख
अपना उल्लू सीधा करना – मतलब निकालना

आ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

आँखे खुलना – सचेत होना
आँखे दिखाना – बहुत क्रोध करना
आसमान से बातें करना – बहुत ऊँचा होना
आँखों का तारा – बहुत प्यारा
आँखें बिछाना – स्वागत करना
आँखों में धूल झोंकना – धोखा देना
आग बबूला होना – अत्यधिक क्रोध करना
आस्तिन का सांप होना – कपटी मित्र
आँखें दिखाना – धमकाना
आसमान टूट पड़ना – अचानक मुसीबत आ जाना
आसमान पर दिमाग होना – अहंकारी होना

ईं – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

ईंट का जवाब पत्थर से देना – करारा जवाब देना
ईद का चाँद होना – बहुत कम दिखाई देना
ईंट से ईंट बजाना – ध्वस्त कर देना

उ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

उड़ती चिड़िया पहचानना – रहस्य की बात दूर से जान लेना
उन्नीस बीस का अंतर होना – बहुत कम अंतर होना
उलटी गंगा बहाना – अनहोनी हो जाना
उल्टे छुरे से मूंढ़ना – ठग लेना
उड़ती चिड़िया के पंख गिनना – अत्यन्त चतुर होना
ऊंट के मुंह में जीरा होना – अधिक खुराक वाले को कम देना

ए – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

एड़ी चोटी का जोर लगाना – बहुत प्रयास करना

ओ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

ओखली में सिर देना – जान बूझकर मुसीबत मोल लेना
औधी खोपड़ी का होना – बेवकूफ होना

क – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

कालानाग होना – बहुत घातक व्यक्ति
केर -बेर का संग होना – विपरीत मेल
कलेजा टूक टूक होना – शोक में दुखी होना
कागजी घोड़े दौड़ाना – बेहद लिखी पढ़ी करना
कमर कसना – तैयार होना
कलेजा मुँह का आना – भयभीत होना
कलेजे पर सांप लोटना – ईर्ष्या करना
कमर टूट जाना – बहुत बड़ी हानि होना
किताब का कीड़ा होना (पढाई के अलावा कुछ न करना
कलेजा ठण्डा होना – शांत होना
कलेजे पर पत्थर रखना – दिल मजबूत करना
कलेजा मुंह को आना – घबरा जाना
काठ का उल्लू होना – मूर्ख होना
कान काटना – चतुर होना
कान खड़े होना – सावधान हो जाना
काम तमाम करना – मार डालना
कुएं में बांस डालना – बहुत खोजबीन करना
कलई खुलना – पोल खुलना
कलेजा फटना – दुःख होना
कीचड़ उछालना – बदनाम करना

ख – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

खून पसीना एक करना – अधिक परिश्रम करना
खून खौलना – क्रोधित होना
खून का प्यासा – जानी दुश्मन होना
खून खौलना – क्रोध आना
खून का प्यासा होना – प्राण लेने को तत्पर होना
खाक छानना – भटकना
खटाई में पड़ना – व्यवधान आ जाना

ग – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

गले का हार होना – बहुत प्रिय होना
गला छूटना – पिंड छोड़ना
गर्दन पर छुरी चलाना – नुकसान पहुचाना
गड़े मुर्दे उखाड़ना – पुरानी बातों का याद दिलाना
गागर में सागर भरना – थोड़े शब्दों में अधिक बातें कहना
गुल खिलना – नयी बात का भेद खुलना ,विचित्र बातें होना
गिरगिट की तरह रंग बदलना – बातें बदलना
गाल बजाना – डींग हांकना
गूलर का फूल होना – दुर्लभ होना
गांठ बांधना – याद रखना
गुड़ गोबर कर देना – काम बिगाड़ देना

घ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

घर का न घाट का – कहीं का नहीं
घाव पर नमक छिड़कना – दुःख में दुःख देना
घाट -घाट का पानी पीना – अनुभवी होना
घी के दिए जलाना – प्रसन्न होना
घुटने टेकना – हार मानना
घड़ों पानी पड़ना – लजिज्त होना
घूरे के दिन फिरना – अच्छे दिन आना

च – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

चल बसना – मर जाना
चार चाँद लगाना – चौगुनी शोभा देना
चिकना घड़ा होना – बेशर्म होना
चिराग तले अँधेरा – भलाई में बुराई
चैन की बंशी बजाना – मौज करना
चाँद का टुकड़ा होना – बहुत सुंदर होना
चिकना घड़ा होना – बात का असर न होना
चांदी काटना – अधिक लाभ कमाना
चांदी का जूता मारना – रिश्वत देना
चंडूखाने की बातें करना – झूठी बातें होना
चंडाल चौकड़ी – दुष्टों का समूह

छ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

छप्पर फाडकर देना – बिना मेहनत का अधिक धन पाना
छाती पर पत्थर रखना – कठोर ह्रदय
छाती पर सवार होना – आ जाना
छिछा लेदर करना – दुर्दशा करना
छक्के छुड़ाना – परास्त कर देना
छप्पर फाड़कर देना – अनायास लाभ होना
छटी का दूध याद आना – अत्यधिक कठिन होना
छाती पर मूंग दलना – पास रहकर दिल दु:खाना
छूमन्तर होना – गायब हो जाना
छाती पर सांप लोटना – ईर्ष्या करना

ज – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

जहर उगलना – द्वेषपूर्ण बात करना
जलती आग में घी डालना – क्रोध बढ़ाना
जमीन आसमान एक करना – बहुत प्रयन्त करना
जान पर खेलना – प्राण की परवाह न करना
जूते चाटना – जी में जी करना
जबान को लगाम देना – सोच समझकर बोलना
जान के लाले पड़ना – प्राण संकट में पड़ना
जी खट्टा होना – मन फिर जाना
जमीन पर पैर न रखना – अहंकार होना
जहर उगलना – बुराई करना
जान पर खेलना – प्राणों की बाजी लगाना

झ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

झक मारना – विवश होना

ट – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

टका सा जबाब देना – साफ़ इनकार करना
टस से मस न होना – कुछ भी प्रभाव न पड़ना
टोपी उछालना – अपमान करना
टेढ़ी खीर होना – कठिन कार्य
टांग अड़ाना – दखल देना
टें बोल जाना – मर जाना
टिप्पस लगाना – सिफारिश करना
टेक निभाना – प्रण पूरा करना
ठकुर सुहाती कहना – खुशामद करना

ड – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

डकार जाना – हड़प लेना

ढ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

ढोल की पोल होना – खोखला होना

त – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

तिल का ताड़ बनाना – छोटी बातों को बढ़ा देना
तूती बोलना – प्रभावशाली होना
तीन तेरह होना – बिखर जाना
तलवार के घाट उतारना – मार डालना
तारे गिनना – नींद न आना

थ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

थूक कर चाटना – बात देकर फिरना
थाली का बैगन होना – सिद्धांतहीन होना

द – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

दम टूटना – मर जाना
दाल में काला होना – संदेह होना
दांत काटी रोटी होना – गहरी दोस्ती
दो-दो हाथ करना – लड़ना

ध – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

धूप में बाल सफेद होना – अनुभव होना
धाक जमाना – प्रभावित करना
धोंधा वसंत होना – मूर्ख व्यक्ति

न – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

नाकों चने चबाना – बहुत सताना
नाक -भौं सिकोड़ना – अप्रसन्नता व्यक्त करना

प – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

पत्थर की लकीर होना – अमिट होना
पेट में दाढ़ी होना – कम उम्र में अधिक जानना
पौ बारह होना – खूब लाभ होना

ब – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

बाजी मारना – जीत पाना
बात बनाना – बहाना बनाना

भ – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

भीगी बिल्ली होना – बिलकुल डर जाना
भुजा उठाकर कहना – प्रतिज्ञा करना

म – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

मजा चखाना – बदला लेना
मन मसोसना – विवश होना
मिट्टी के मोल – बहुत सस्ता
मुट्ठी गरम करना – घूस लेना
मुँह बंद कर देना – शांत कराना
मीठी छुरी – छली मनुष्य
मुँह  काला होना – अपमानित होना
मुँह  की खाना – पराजित होना
मख्खन लगाना – चापलूसी करना
मगरमच्छ के आँसू  – दिखावटी सहानुभूति

स – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

सेमल का फूल होना – थोडें दिनों का असितत्व होना
सब्जबाग दिखाना – झूठी आशा देना

ह – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

हाथ पसारना – मांगना
हाथ मलना – पछताना
हालत पतली होना – दयनीय दशा होना
हाथ के तोते उड़ना – घबरा जाना

त्र – अक्षर से शुरु होने वाले मुहावरे :

त्रिशंकु होना – अधर में लटकना

General Hindi Books

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here